जीवन के रंग12 December, 2019
Create a Brand for yourself www.jeevankerang.com

स्वयं को एक बड़ा ब्रांड कैसे बनाये | Create a Brand for yourself

व्यक्तिगत ब्रांड क्या है और क्यूँ ज़रूरी है | What is a Personal Brand ?

आजकल के दौर में स्वयं का एक ब्रांड होना बहुत जरुरी है| आपका ब्रांड जितना बड़ा होगा उतना ही लोग आपको जानेगे, आपकी विशेषताओ के बारे में जानेंगे, आपसे जुड़ना चाहेगें जिससे आपका नेटवर्क बढेगा, और अधिक मजबूत होगा और अंततः आपको आपकी जॉब या बिज़नस को बढाने में मददगार साबित होगा |

परन्तु सवाल यह है की आखिर ब्रांड है क्या ?

ब्रांड एक नाम, एक शब्द, डिजाइन, प्रतीक या कोई अन्य विशेषता है जो एक विक्रेता के सामान या सेवा को अन्य विक्रेताओं से अलग पहचान देता है।

दूसरे शब्दों में, किसी भी उपभोक्ता का एक लम्बे समय तक किसी वस्तु या सर्विसेज पर एक जैसा अनुभव और विश्वास बना रहना ब्रांड कहलाता है |

आइये, उदाहरण से समझते हैं |

दोस्तों, आप एक किराने की दुकान पर जाते हैं चीनी लेने के लिए — जहां आप देखते हैं कि एक साईड में पड़ी खुली चीनी 30 रुपए किलो है जिसका कोई ब्रांड, कोई नाम नहीं है। इसके अलावा चीनी के कई पैकेट पड़े है जिनके ऊपर नाम है मतलब ब्रांड है । हर ब्रांड की कीमत अलग-अलग है — 50 रुपए किलो से लेकर 200 रुपए किलो तक | अंदर तो चीनी ही है पर डिफरेंट ब्रांड्स के हिसाब से हर चीनी के पैकेट की कीमत अलग- अलग है |

इसी तरह से हम सभी अपने आप में एक ब्रांड है और हमारे बनाये गए ब्रांड के अनुसार ही हमें नौकरी या वयापार में धन की प्राप्ति होती है | आप लाईफ में कितना आगे जाने वाले हो, आप कितना कमाने वाले हो। ये हर चीज इस बात पर निर्भर करती है कि आप कितना बड़ा ब्रेंड खुद का बना सकते हो

इस आर्टिकल में प्रसिद्ध मोटिवेशन स्पीकर  श्री हिमेश मदान जी द्वारा बताये गए निम्नलिखित 3 पॉइंट्स से यह जानेगे की हम स्वयं का ब्रांड कैसे और कितना बड़ा ब्रांड बना सकते हैं और जीवन में ऊँचे मुकाम कैसे हासिल कर सकते हैं :-

  1. प्रोग्रेस (Progress) प्रगति

पहला पाइंट आपसे डिस्कस करते है प्रोग्रेस:-

  • क्या आप एक ऐसे शिक्षक से पढ़ना चाहोगे जिसे अपने सब्जेक्ट का पूर्ण ज्ञान ना हो ?
  • क्या आप एक ऐसे डॉक्टर से इलाज करवाओगे जिसको अपने विषय का ठीक ठीक पता ना हो,
  • क्या आप ऐसे व्यक्ति से खाना बनवोगे जिसे कुकिंग अच्छे से नहीं आती हो |

चाहे कोई कंपनी हो या व्यक्ति  – प्रोग्रेस ही वो पहला कारण है जिसकी वजह से ब्रांड बनता है | आपके शहर में कई वकील होंगे लेकिन कुछ वकीलों को ही नामी वकील कहा जाता है| कॉलेज में प्ले होना है और कई स्टूडेंट्स है जो एक्टिंग करना चाहते है लेकिन सिर्फ कुछ छात्रों को ही लीड रोल दिया जाता है |

दोस्तों, आपको भी अच्छा ब्रांड तभी माना जाएगा जब आपके पास अपने क्षेत्र  की नॉलेज होगी; आपके पास अपने क्षेत्र  की विशेष्गता (एक्सपर्टनेस) होगी। इसलिए बहुत जरुरी है कि अपने क्षेत्र  की नॉलेज (ज्ञान) में प्रोग्रेस करते रहना – अपने प्रोग्रेशन प्लान को बनाना और फिर लगन से पूरा करना |

प्लानिंग पुशेज योर प्रोग्रेस इनटू प्रोफेशन — अगर योजनाबद्ध तरीके से  प्रोग्रेस करोगे तो एक विश्वसनीय ब्रांड की तरफ जाओगे। बस आपको पता होना चाहिए कि आप किस डायरेक्शन में प्रोग्रेस करना चाहते हैं |

अगर नेटवर्क मार्केटिंग में प्रोग्रेस करना है तो आपको अपने क्षेत्र  की इतनी नॉलेज होनी चाहिए कि लोग कहे कि बिजनेस करना है तो इसके साथ करना है। अगर जॉब कर रहे है तो स्किल्स (कौशलता) ऐसी  हो कि ऑफिस में यह बात हमेशा हो कि प्रमोशन करना है तो इसी का करना है। अगर जर्नलिस्ट बनना चाहते हो तो आपके क्षेत्र  की हर न्यूज़ आपके पास होनी चाहिए।

  1. एक्सप्रेस (Express) – व्यक्त करना

प्रोग्रेस के बाद जो दूसरा पॉइंट है वो है एक्सप्रेस (व्यक्त) करना – अब उसको समझते है।

कोई भी ब्रांड बनाने के लिए उसकी विशेषताओं को लोगों तक पहुँचाना होता है | दोस्तों जब आपको इंटरनेट पर कुछ सर्च करना होता है हम क्या कहते है चलो गूगल करते है। आओ कुछ तूफानी करते है क्या याद आया थॉम्सअप | ये एप्पल का फोन नहीं है – आईफोन है।

गूगल, थॉम्सअप, आईफोन जैसे सभी प्रोडक्ट्स ने अपनी विशेषताओं को लोगों तक बहुत अच्छे ढंग से पहुँचाया और एक चर्चित एवं लाभदायक ब्रांड बने |

इस तरह से लोगों के बीच में सभी ब्रांड्स अपने आप को बनाते है – अपने इम्प्रैशन को जमाते है  और हमें भी यहीं करना होगा । स्वयं को ब्रांड बनने के लिए लोगों के बीच में आना होगा – अपनी छाप, अपनी पहचान बनाने के लिए लोगों में रहना होगा, अपनी क्षमताओं को एक्सप्रेस करना होगा। लोगों के बीच अपनी एक अलग छाप छोडनी होगी |

अपने क्षेत्र से रिलेटेड नॉलेज जो आप बढ़ा रहे हो जो प्रोग्रेस कर रहे हो उसको शेयर करना शुरु करो | सोशल मीडिया (फेसबुक, instagram, ट्विटर ) पर आपकी इंडस्ट्री को लोग, आपके क्षेत्र  के लोग आपको फॉलो करना शुरु कर देंगे। यहीं से रास्ते खुलेंगे बिजनेस अपोर्च्यूनिटी के – यहीं से रास्ते खुलेंसे नेक्सट जॉब अपोर्च्यूनिटी के | आप ये देखों कि जब कल को आप इंटरव्यू देने जाओगे और वहां बताओगे कि ये मेरा सोशल मीडिया प्लेटफार्म है जहां मैं अपने क्षेत्र  से रिलेटेड चीज़े शेयर करता हूं तो कितनी बड़ी स्ट्रेंथ बनेगी कि ये बंदा अपने क्षेत्र से सम्बन्धित कितना फोकस्ड है। इसको क्षेत्र की कितनी नॉलेज है तो आपके हायरिंग के चांसेस उतने ही  बढ़ जाते है |

दोस्तों कितने ऐसे स्टार्टअप (नये व्यापार) है जिनको उनके इन्वेस्टर्स – उनके आइडियाज पर पैसा लगाने वाले लोग उनके नेटवर्क कनेक्शन से मिले – जब वो अपने नेटवर्क इवेंट में गए और नये कनेक्शन बनाये। आप भी  प्रयास करोगे तो आपको लाभ जरुर मिलेगा।

मतलब एक अच्छा रिलेशन एक अच्छा कॉन्टेक्ट आपके लिए कई कॉन्टेक्ट खोल सकता है। आपके ब्रेंड को कई जगह पहुंचा सकता है पर ये तभी जब आप लोगों से जुड़ेंगे बिना व्यक्त किए ये नहीं हो सकता फिर चाहे आप जॉब कर रहे हो, स्टूडेंट हो या बिजनसमेन अपनी क्षेत्र  के लोगों के साथ कनेक्शन मैनटेन करो उनके टच में रहो | आपके क्षेत्र  का कोई भी इवेंट आपके शहर में हो रहा है तो आप जरुर जाओ वहां एक अपोर्च्यूनिटी है खुद को एक्सप्रेस करने की।

  1. इन्वेस्ट (Invest) निवेश

लोग आपको याद रखें आपको भूले नहीं इसके लिए आपको इन्वेस्ट करना बहुत जरुरी है। बड़ी बड़ी कंपनियां विज्ञापन पर करोड़ों रुपया खर्च करती है कॉका कॉला भी हर साल 5 बिलियन डॉलर खर्च करती है अपने विज्ञापन पर, ताकि आप उन्हे याद रखे उन्हे भूले नहीं |

आपको याद रहे कि ठंडा मतलब कोका-कोला |

आपको याद रहे, कोका कोला मतलब – खुशियाँ – Open Happiness

यदि आप जॉब कर रहे हैं या व्यापार – आपको अपनी मासिक आय का 5-10 परसेंट अपनी ब्रॉडिंग के ऊपर खर्च करने चाहिए  । ये इन्वेस्टमेंट आपको पक्का रिटर्न देगी – अच्छी जॉब अपोर्च्यूनिटी के रूप में,ज्यादा इनकम के रूप में, ज्यादा बड़ा नेटवर्क यानि कि ज्यादा बिजनेस के रूप में |

और अगर आप स्टूडेंट हो तो भी अपनी पॉकेटमनी से थोड़ा इन्वेस्ट करना शुरु करो | यदि पैसा इन्वेस्ट नहीं कर सकते तो टाईम इन्वेस्ट करना जरुर शुरु करो क्योंकि इन्वेस्टमेंट बहुत जरुरी है तभी रिटर्न आता है। आप इस बजट को कई तरीकों से इन्वेस्ट कर सकते हो मैं आपको कुछ टिप्स देता हूं।

अपने धन और समय को आप किताबें खरीदने वा पड़ने में, आप अपने क्षेत्र से जुड़ी कोई ट्रेनिंग करने में, अपने  क्षेत्र  से सम्बंधित कोई क्लब है या कोई सोसायटी की मैंबरशीप लेने में अथवा किसी अन्य संसाधन में लगा सकते हैं |

दोस्तों ये तीनो पॉइंट्स मैं आपको एक प्रैक्टिकल उदाहरण से बताना चाहता हूं –

Create a Brand for yourself www.jeevankerang.com

अमिताभ बच्चन ने 1988 में विनोद खन्ना को एक लेटर लिखा था, जब विनोद खन्ना की एक फिल्म दयावान रिलीज हुई | अमिताभ बच्चन ने ये फिल्म देखी जब उन्हे ये अच्छी लगी तो उन्होने विनोद खन्ना को एक लेटर लिखकर बधाई देते हुए कहा कि इतनी शानदार एक्टिंग कई सालों से किसी ने नहीं की, ये हमेशा याद रहेगी और मैं इसको बीट भी नहीं कर सकता ।

दोस्तों कितने फ़िल्मी एक्टर्स  थे अमिताभ बच्चन जी के दौर में,  जो आज दिखाई  भी नहीं देते | लेकिन अमिताभ बच्चन का वही रुतबा, वही करिश्मा आज भी कायम है – क्योंकि वो समझते है कि:-

  • अपनी क्षेत्र में प्रोग्रेस करने के लिए खुद की एक्टिंग और बॉडी पर काम करना जरुरी है।
  • एक्सप्रेस यानि अपने कॉम्पीडिटर को चिट्ठी लिखकर उनके काम को सराहना कर लोगों के साथ जुड़े रहना आपको दूसरों से अलग बनाता है और
  • इन्वेस्ट,अपने ऊपर इन्वेस्ट करना – अपने टाईम को इन्वेस्ट करना, वो आज भी ट्वीटर और इंस्टाग्राम पर एक्टिव है, इतनी उम्र हो जाने के बाद भी वो जोश कायम है| वो प्रोग्रेस,एक्सप्रेस,इन्वेस्ट कायम है तभी वो महानायक है।

आप भी एक ब्रांड हो और आपके पास भी मौका है हर रोज अपने ब्रांड को बड़ा करने का – अपनी पहचान को बड़ा करने का और अपनी जिंदगी में अपने कैरियर की ग्रोथ की स्पीड को तेज़ी से बढ़ाने का।

प्रोग्रेस, प्रोसेस और इन्वेस्ट इन तीनों पॉइंट्स को ध्यान में रखकर आप भी बड़े ब्रांड्स की तरह अपने क्षेत्र  में एक नया मुकाम हासिल कर सकते है। स्वयं को एक ब्रांड बनाये और जीवन की ऊंचाईयों को छुएं |

इस व्यवहारिक आर्टिकल को पड़ने के लिये आपका हार्दिक धन्यवाद |

अपनी राय हमें नीचे कमेंट बॉक्स में ज़रूर लिखें |

भारत के युवा लोग जो अपने जीवन में नई ऊंचाईयों को छूने का जज्बा रखते हैं, यह ब्लॉग उन्हें जीवन के विभिन्न पहलुओं को बड़े ही व्यवहारिक तरीकों से अवगत करवाता है |

2 Comments

Leave a Reply to Sumit pandey Cancel reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *