जीवन के रंग15 September, 2019
9 Difference between Tourist and Traveller - jeevanKeRang.com

जानिये 9 अन्तर – एक पर्यटक और एक यात्री में …

Tourist vs Traveller

एक पर्यटक और एक यात्री की इन 9 भिन्नताओं को जानकर आप अपनी हर यात्रा को आनंदमयी, रोमांचक एवं अविस्मरणीय बना सकते हैं |

इन छुट्टियों में कहाँ घुमने जा रहे हो ?

चलो किसी पहाड़ी इलाके में घूमने चलते हैं …

यह वाक्य सुनते ही हमारा मन प्रफुलित हो जाता है | भारत भ्रमण या फिर विदेश – कहीं भी यात्रा पर जाना स्वाभाविक रूप से हम सबको अच्छा लगता है  |

कुछ महीने पहले, मैंने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में तीर्थन नामक घाटी का दौरा किया। यह 5 दिन लंबी एकल यात्रा (Solo Trip) थी। मेरे लौटने पर, मेरे दोस्तों ने आश्चर्य से मुझसे पूछा कि,

क्या ? आप  वहाँ अकेले गए थे ?

परिवार या किसी भी दोस्त के साथ क्यों नहीं गये  ?

क्या यह  एक उबाऊ यात्रा नहीं थी  ?

क्या आप अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित नहीं थे  ?

आमतौर पर, जब बाहर घूमने जाने की बात होती है तो हम परिवार या दोस्तों के साथ जाते हैं। लेकिन अकेले जाना बहुत अच्छा अनुभव था। मैं कई दिलचस्प लोगों से मिला, स्थानीय भोजन का स्वाद चखा, उनकी कहानियाँ सुनीं और कुछ अच्छे दोस्त बनाए।

वहां मुझे दो दृष्टिकोणों – पर्यटक और यात्री – के बीच का अंतर पता चला। मैं इसे यहां साझा कर रहा हूं… और सभी से आग्रह करता हूं कि वर्ष में कम से कम एक बार अकेले, किसी भी घुमने लायक जगह पर अवश्य जाएं। आप अपने अनुभवों को बार बार याद करेंगे और बहुत मजबूत एवं स्वयं-ज्ञाता (Self-realized soul) बनकर आयेगें|

Infographics - 9 Differences between a Tourist vs Traveller - JeevanKeRang

आशा है आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा | अपने विचार अवश्य साझा करें | धन्यवाद…

भारत के युवा लोग जो अपने जीवन में नई ऊंचाईयों को छूने का जज्बा रखते हैं, यह ब्लॉग उन्हें जीवन के विभिन्न पहलुओं को बड़े ही व्यवहारिक तरीकों से अवगत करवाता है |

One Comment

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *