जीवन के रंग14 November, 2019
Freelancer - Photographer www.jeevankerang.com

फ्रीलांसर बनकर अपनी तन्खवाह से भी ज्यादा पैसा कैसे कमायें ?

फ्रिलांसिंग होता क्या है ?

हम भारतीय औसतन 12 से 18 वर्ष खूब पढ़ते हैं और स्वयं में कुछ कौशल (स्किल) पैदा करते है जैसे कि सेल्स, मार्किटिंग, कंप्यूटर टेक्नोलॉजी, मेडिकल … या फिर कंटेन्ट राईटिंग, डिजाईनिंग , सोशल मिडिया हैंडलिंग ,वीडियो मैकिंग, फोटोग्राफी, ब्यूटीशियन, वेब डिजाईनिंग, कोचिंग, म्यूजिक टीचिंग आदि |

हम अपनी अर्जित स्किल्स की बदौलत कुछ नौकरी करते हैं या अपना व्यापार करते है जिससे हम अपना वा अपने परिवार का निर्वाहन करते हैं | लेकिन आज के ग्लोबल युग में हर कोई बेहतर सुख सुविधाएँ चाहता है – ज्यादा नाम व धन कमाना एक ज़रुरत बनता जा रहा है | इसलिये एक इनकम सोर्स से सभी इछाओं/सपनों को पूरा करना बहुत मुश्किल है |

अधिक धन कमाने के लिए नौकरी के साथ साथ कुछ एक्स्ट्रा कार्य करने की भी ज़रुरत ने फ्रीलांसिंग मॉडल को जनम दिया और अच्छी इन्टरनेट सुविधाओं ने इसे और भी अधिक आसान बना दिया|

फ्रीलांसिंग में आप रेगुलर जॉब न करके, घंटों, दिनों या प्रोजेक्ट बेसिस पर किसी अन्य कंपनी के लिए कार्य करते हैं और वह कंपनी आपको आपकी सेवाओं के लिए उचित पेमेंट करती है | आप फ्रीलान्स कार्य कहीं भी बैठ कर सकते हैं और फिर इन्टरनेट के द्वारा अपने क्लाइंट को भेज सकते हैं | आपका क्लाइंट आपकी पेमेंट बैंक से या PayTm से या ऐसे ही किसी अन्य तरीके से आपको ट्रान्सफर कर देता है|
तो इस तरह आप घर बैठे बिठाए, अपनी नौकरी के साथ एक्स्ट्रा समय में या बिना रेगुलर नौकरी के 100% समय फ्रीलांसिंग कार्य करके, अपनी सुविधा अनुसार हजारों रूपए कमा सकते हैं |

फ्रीलांसर बनकर घर से काम करके पैसे कमाने का एक बहुत अच्छा और फायदेमंद तरीका है। तो आइए जानते है फ्रीलांसर बनने के लिए क्या करें:-
• सबसे पहले आप अपने स्किल्स को विकसित करें जिसकी मार्किट में डिमांड है, जैसे की कंटेन्ट राईटिंग, डिजाईनिंग, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग, सोशल मिडिया हैंडलिंग ,वीडियो मैकिंग, फोटोग्राफी, ब्यूटीशियन, वेब डिजाईनिंग, कोचिंग, म्यूजिक टीचिंग, MS-Office, डाटा एंट्री इत्यादि |
• फ्रिलांसर बनने के लिए आपको पहले फ्रिलांसिंग साईट्स पर जाकर अपना रजिस्ट्रेश करना होता है।
• फ्रीलांसिंग की शुरूआत में आपको अपना पोर्टफोलियो बनाना होता है जिसके साथ आप अपना फेसबुक,इंस्टाग्राम अकाउंट बना सकते है जो की पूरी तरह से फ्री होते है और जिन पर आप अपने द्वारा किए गए वर्क को पोस्ट कर सकते है।
• शुरुआती दौर में आपको क्लाइंट भी कम ही मिलते है। यदि अपने काम में क्वालिटी है तो वो आपको नए प्रोजेक्ट दिलाने में अत्यंत महत्वपूर्ण योगदान देती है। आपकी पहचान जितनी ज्यादा होगी उतने ही तेज़ी से और अधिक प्रोजेक्ट आपको प्राप्त होंगे।
• आप अपनी पहचान बढ़ाने के लिए आप अपने पुराने नेटवर्क का प्रयोग करें।
• किसी कम्पनी से खुद फ्रीलांसिंग के लिए संपर्क करने से पहले आप अपने किसी परिचित व्यक्ति से उस कंपनी को आपको रिकमेंड करने के लिए कह सकते है।
• उनके द्वारा रिकमेंड किये जाने के बाद जब आप स्वयं उस कंपनी से संपर्क करेंगे तो उसके द्वारा आपको प्रोजेक्ट प्राप्त होने की सम्भावना अधिक रहेगी। आप जिस कंपनी के साथ काम करना चाहते हैं।
• उससे सम्बंधित अपने संपर्क सूत्र ढूंढने के लिए पहले से रिसर्च करें।सोशल मीडिया प्लेटफार्मस पर अपने काम की प्रोफोईल को समय समय पर अपडेट करें जिससे आपको नये क्लाईंट मिलने में आसानी होगी।

Freelance earning www.jeevankerang.com


फ्रिलांसिंग के फायदे-

फ्रिलांसिंग को आप अपनी रेगुलर जॉब के साथ साथ भी कर सकते है या फिर बिना जॉब के – 100% समय फ्रीलांसिंग प्रोजेक्ट्स पर लगा कर | इसके कुछ फायदें हम आपको बताते है :
1. फ्रिलांसिंग में आपको समय की कोई पाबंदी नहीं होती साथ ही आप कहीं भी कभी भी काम कर सकते है।
2. इसमें आप एक ही समय में कई अलग अलग कंपनियों, संगठनों या व्यक्तियों के साथ अलग अलग एसाइन्मेंट लेते हैं और उन्हें तय समय पूरा करके उन्हे डिलीवर करते हैं।
3. जिसके बदले में सम्बंधित कंपनी,संगठन या व्यक्ति आपको आपके द्वारा किये गए काम की पेमेंट प्रदान करती है। फ्रीलांसिंग की बहुत सारी विशेषताएं हैं जैसे, अपनी पसंद की जगह से काम करना, काम का समय स्वयं निर्धारित करना, अपने काम की कीमत स्वयं निर्धारित करना आदि।
4. फ्रिलांसिग में आपको आपकी कार्यकुशलता एवं अनुभव के अनुसार काम मिलता है ना कि आपकी डिग्री को देखकर।
5. आज के इस दौर में बड़ी-छोटी सभी कंपनियां फ्रीलांसिंग कार्य को ज्यादा प्रोत्साहित करती है जिससे उन्हे बहुत सारे कर्मचारियों की नियुक्ति नहीं करनी पड़ती, उनका वर्किंग स्पेस भी बच जाता है और वो अपना काफी काम फ्रिलांसर से करवाकर अच्छा लाभ कमा सकती है।

फ्रिलांसर के लिए कहां करे रजिस्ट्रेशन ?
इंटरनेट के इस युग में आप फ्रिलांसर बनकर कहीं भी रहते हुए अपना काम कर सकते है। फ्रिलांसिंग में यह फायदा आपको रहता है कि आप किसी भी शहर या गांव में रहकर किसी भी दूसरे शहर में स्थित कंपनी के लिए काम कर सकते है। आप फ्रिलांसिंग के काम को करने के लिए इंटरनेट पर उपलब्ध इन वेबसाइड्स पर जाकर अपना रजिस्ट्रेश कर सकते है और तन्खवाह से ज्यादा कमाई कर सकते है।
• www.upwork.com
• www.freelancer.com
• www.fiverr.com
• www.HiFreelancer.com
• www.OnContract.com
• www.Youth4Work.com
• www.CreativeFreelancersIndia.com

इन सभी वेबसाईट्स पर जाकर आप अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है जहां आपको सभी जरुरी इनफार्मेशन जैसे की नाम, पता, ईमेल, आपकी स्किल्स, आपका कार्य अनुभव इत्यादि अपलोड करना होता है। दोस्तों इस तरह आप भी बताई गई प्रक्रिया को फॉलो करके बन सकते है फ्रिलांसर और घर बैठे कमा सकते है अपनी तनख्वाह से भी ज्यादा।

भारत के युवा लोग जो अपने जीवन में नई ऊंचाईयों को छूने का जज्बा रखते हैं, यह ब्लॉग उन्हें जीवन के विभिन्न पहलुओं को बड़े ही व्यवहारिक तरीकों से अवगत करवाता है |

3 Comments

  1. Naveen verma Reply

    Thank you for the information. This article helps me to take the benefits of Freelancing.
    All websites example shared by you is very helpful !!

  2. Shiv Kumar Singh Reply

    Excellent information sir… I’m really so happy to have this article read. It is very helpful for today’s all youth. Thanks Sir.

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *