जीवन के रंग23 July, 2019
How to Overcome Depression - www.JeevanKeRang.com

युवाओं में Depression क्यूँ होता है और इसका इलाज क्या है ?

हम सभी जानते हैं कि Feeling low (दबा हुआ) महसूस करना कैसा होता है। मूड में कुछ उतार-चढ़ाव सभी के लिए सामान्य हैं।

लेकिन जब खालीपन और निराशा की भावना मन मे बस जाती है और यह आपके दैनिक जीवन को प्रभावित करती है, तो संभावना है कि यह अवसाद (Depression) के कारण हो सकता है। डब्ल्यूएचओ – W.H.O. के अनुसार, 2020 तक दुनिया भर में मृत्यु और विकलांगता का दूसरा प्रमुख कारण अवसाद (Depression) हो जायेगा ।

Depression – अवसाद एक मनोदशा विकार है जो उदासी और Loss of Interest की लगातार भावना का कारण बनता है | यह प्रभावित करता है कि आप कैसा महसूस करते हैं, सोचते हैं और व्यवहार करते हैं और इससे विभिन्न प्रकार की भावनात्मक और शारीरिक समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

यदि आप डिप्रेशन के शिकार हैं तो आपको दिन-प्रतिदिन की सामान्य गतिविधियों को करने में परेशानी हो सकती है, और कभी-कभी आप महसूस कर सकते हैं जैसे कि जीवन जीने लायक नहीं है। डिप्रेशन  आपकी Personality development में एक बहुत बड़ा व्यवधान है | आइये आज हम जानते हैं कि डिप्रेशन से कैसे निजात पायें – How to overcome depression.

TSMadan ji के  Youtube Channel के द्वारा जानते हैं  – डिप्रेशन के 5 लक्षण

डिप्रेशन के लक्षणों में शामिल हैं:

  1. उदासी
  2. चिड़चिड़ापन
  3. रोचक गतिविधियों में भी मज़ा ना ले पाना
  4. सामाजिक गतिविधियों से पीछे हटना
  5. ध्यान केंद्रित करने में असमर्थता
  6. नींद में खलल
  7. थकान या ऊर्जा की हानि
  8. भूख में परिवर्तन
  9. आत्महत्या के विचार

डिप्रेशन के कारण

अवसाद के कारणों को पूरी तरह से समझा नहीं गया है, लेकिन वैज्ञानिकों का मानना है कि मस्तिष्क के सिग्नलिंग रसायनों में असंतुलन (Chemical imbalance) कई रोगियों में स्थिति के लिए जिम्मेदार हो सकता है। इसके अलावा, विभिन्न प्रकार की संकटपूर्ण जीवन स्थितियाँ भी जुड़ी हुई हैं, जिनमें बचपन का कोई आघात, प्यार में धोखा, नौकरी छूटना, किसी प्रियजन की मृत्यु, आर्थिक परेशानी या तलाक शामिल हैं।

यदि आप उदास महसूस करते हैं, तो जितनी जल्दी हो सके अपने चिकित्सक या मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर को देखने के लिए मिलें । यदि आप उपचार लेने के लिए अनिच्छुक हैं, तो किसी मित्र या प्रियजन से बात करें, कोई भी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर, एक विश्वास नेता (a faith leader) , या कोई और जिस पर आप भरोसा करते हैं।

Dr Ashish Mittal, MD (AIIMS – New Delhi) ने बहुत विस्तार से हमें इस वीडियो में बताते हैं – डिप्रेशन और उसके उपचार के बारे में |

डिप्रेशन का उपचार

अवसाद उपचार में मनोचिकित्सा चिकित्सा, दवाएं या दोनों का संयोजन शामिल हो सकता है।

  • दवा: प्रिस्क्रिप्शन दवाएं, जिन्हें एंटीडिपेंटेंट्स (Antidepressants) कहा जाता है, स्वाभाविक रूप से मस्तिष्क रसायनों को प्रभावित करके मूड को बदलने में मदद करते हैं।
  • मनोचिकित्सा: टॉक थेरेपी या परामर्श के रूप में भी जाना जाता है, इस उपचार को अवसाद के कुछ रोगियों की मदद करने के लिए दिखाया गया है। कई अध्ययनों ने सुझाव दिया है कि गंभीर अवसाद वाले लोगों के इलाज के लिए मनोचिकित्सा और दवा का एक साथ संयोजन सबसे अच्छा काम करता है।

विभिन्न प्रकार के मनोचिकित्सा में संज्ञानात्मक-व्यवहार थेरेपी (cognitive-behavioral therapy) शामिल हैं, जो किसी व्यक्ति के नकारात्मक विचार पैटर्न को बदल कर पॉजिटिव विचार देने में बहुत अच्छे ढंग मददगार साबित होती है |

  • मानसिक स्वास्थ्य – मनोचिकित्सा का एक अन्य रूप समस्या-समाधान चिकित्सा (problem-solving therapy) है, जिसमें तनावपूर्ण स्थितियों का सामना करने के लिए यथार्थवादी समाधानों (realistic solutions ) को बताया जाता है ।

एक डिप्रेशन के बीमार व्यक्ति की कैसे मदद करें:-

  • उनके साथ समय बिताएं व उन्हें दिल से उनकी बातों को सुने |
  • कभी भी उनकी आलोचना न करें और न ही उनकी किसी से तुलना करें |
  • उनकी समस्याओं को समझ कर उन्हें अच्छे डॉक्टर से मिलने की सलाह दें |
  • उनके साथ धैर्य व दया रखें |
  • उनसे यथार्थवादी अपेक्षाएँ रखें |

हम प्राथना करते हैं कि सभी जीवन में स्वास्थ रहकर एवं खूब मेहनत कर आनंद पूर्वक निर्वाह करें | आशा है यह लेख आपके लिये उपयोगी होगा | अपने विचार हमें अवश्य लिखें | धन्यवाद |

>> इन्हें भी अवश्य पढ़ें :-

भारत के युवा लोग जो अपने जीवन में नई ऊंचाईयों को छूने का जज्बा रखते हैं, यह ब्लॉग उन्हें जीवन के विभिन्न पहलुओं को बड़े ही व्यवहारिक तरीकों से अवगत करवाता है |

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *